Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

जीजू की बहन की चुदाई

Jiju ki behan ki chudai:

ghar me chudai ki desi sex stories

हेलो दोस्तों मेरा नाम रवि है और आज मैं आप के सामने एक मस्त कहानी ले कर आया हूँ| तो चलिए अब कहानी शुरू करते है| मुझे पूरी उम्मीद है आप को मेरी ये वाली कहानी भी जरुर पसन्द आयेगी| तो अब मजा लेने के लिए तैयार हो जाइये| दोस्तों ये बात आज से ८ महीने पहले की है जाम मेरे जीजू ने मुझे अपने साथ मुंबई रहने और जॉब के लिए बुलाया था| मेरी बड़ी बहन पुनम की शादी मुंबई में हुई थी| मेरे जीजू पवन एक बड़ी इंटरनेशनल कंपनी में जॉब करते थे| और उनकी अच्छी सैलरी थी जिससे उन्हें किसी भी तरह की कोई भी कमी नहीं थी| जब मैं अपनी पढाई पूरी कर ली तो मैं जॉब के लिए भटकने लगा| तब जीजू ने मुझे अपने पास बुला लिया था| उनके घर में उनके मम्मी पापा और जीजू और दीदी ही रहते थे|

काफी खुशियों से भरी हुई परिवार थी उनकी| घर में सुबह होते हु जीजू और पापा दोनों अपने ऑफिस चले जाते थे| और मम्मी भी अपने बाहर के काम करने के लिए चली जाती थी| अब मैं और दीदी घर पर एक दम अकेले रहते थे| मैं भी इधर उधर जॉब खोज रहा था पर अभी तक कोई बात नहीं बनी थी| अभी मुझे उनके घर आये हुए सिर्फ ८ दिन ही हुए थे की तभी जीजू की बहन पायल वहां पर रहने के लिए आ गयी| दरसल पायल की शादी हो राखी है पर उसके अपने पति से लड़ाई हो राखी है इसलिए वो यहाँ कुछ दिन रहने के लिए आयी हुई है| दोस्तों मैं पायल के बारे में अब आप को क्या बताऊ| उसकी उम्र २८ साल की होगी और उसके जिस्म का तो मैं उसे देखते ही दीवाना सा हो गया था| उसका फिगर कुछ ऐसा था की ३६-२८- ३८| उसके जिस्म में उसके चूची और गांड कपड़े को फाड़ना वाला हो जाता था| मुझे उसकी ये चीज बहुत ही ज्यादा पसन्द आई| वो हमेशा ही सूट और एक दम टाइट पैजामा पहनती थी| जिससे उसका अंग अंग चमकता था वो मेरे लंड को खड़ा होने पर मजबूर कर देती थी|

मैं अब उसे देख कर रोज हर टाइम मुठ मारता था पहले दिन ही उसने मेरे लंड को २ बार मुठ मारने पर मजबूर कर दिया था| एक दिन की बात है दोस्तों रात का टाइम था मैं अपने रूम में जा रहा था की तभी मेरी नज़र पायल के रूम में गई उसका दरवाजा थोड़ा सा खुला था| अन्दर का नज़ारा देख मैं पागल सा हो गया| अन्दर पायल अपने कपड़े उतार कर नाईट सूट डाल रही थी| वो पूरी नंगी थी जिसे देख कर मैं पागल हो गया| क्या कमाल के चूची जो एक दम सोफे और गोरे थे| और निचे उसकी चिकनी गांड और चूत ने मेरे लंड पागल कर दिया था| मैं उसे देखने लग गया जब उसे एहसास हुवा की उसे कोई देख रहा है तो मैं झट से वहां से भाग कर पास वाले बाथरूम में घुस गया| और बाथरूम में अपना लंड निकाल कर जोर जोर से मुठ मतने लग गया| मेरी आह आह की आवाजें बाथरूम से बाहर जा रही थी| जब मैं शांत हुआ तो मुझे ऐसा लगा की कोई बहार खड़ा था और वो अभी गया है| मेरी गांड सी फट गई पर मैं हिम्मत करके बहार आ गया| तभी लाइट चली गई और मैं दीदी और पायल बहार बालकनी में कुर्सी पर बैठ गए| तभी मैंने महसूस किया की पायल का पैर मेरे टांग से होते हुए मेरे लंड की और बढ़ रहा है| मैं समझ गया की आज पायल ने मुझे ये सब करते हुए देख लिया है| तभी लाइट आ गई और उसने झट से अपना पाव हटा लिया और मेरी तरफ देख कर मुस्कुराने लग गई|मुझे लगा की अब ये चोदने के लिए तैयार है|

पर मुझे उसे चोदने का मोका नहीं मिल रहा था वो और मैं अब एक दुसरे के करीब आने लग गए थे मैंने उसे किस करना उसके चूची दबाना शुरू कर दिया था| वो भी मुझसे चोदने के लिए तैयार थी पर हम दोनों कोई मोका तो मिले| मई और वो एक मोके की तलाश में थे क्यूंकि अब हम दोनों किसी भी तरह का रिस्क नहीं चाहते थे| एक दिन की बात है जीजू को अपनी बुआ की लड़की की शादी में जाना था| इसलिए उनके साथ पूरी फॅमिली जा रही थी पर मैं नहीं गया क्यूंकि मुझे अपने इंटरव्यू पर जाना था| मैं सोच रहा था की इतना अच्छा मोका था आज हम दोनों के पास पास पर पायल भी उनके साथ चली गई करीब ३० मिनट बाद डोर बेल बजी मैंने दरवाजा खोला| तो वो सामने कड़ी थी जिसे देख कर मैं बहुत खुश हो गया| उसने कहा की मैंने उन्हें कह दिया की मेरी तबियत बहुत ही ख़राब हो गयी है इसलिए वो नहीं जा सकती| अब हम दोनों ४ दिनों के लिए घर पर बिलकुल अकेले थे| मैंने अपना इंटरव्यू कैंसिल कर दिया| और उसको अपनी बाँहों में भर कर बेडरूम में ले गया और जाते ही उसे पूरा नंगा कर दिया| और फिर पायल के मोटे चूची को मैंने करीब २० मिनट तक अच्छे से चूस कर गोरे एक दम लाल कर दिया उसके निप्लेस को मैंने कट कट कर सुजा दिया था|

फिर मैंने उसकी चूत को अच्छे से चूसा और उसकी चूत का अच्छे से पानी निकल दिया| और अच्छे से अन्दर से उसकी चूत का पानी चूस चूस कर पिया| अब मैंने उसे अपना लंड दिखाया तो वो डर गई और बोली ये लंड है क्या लंड का बाप है| इतना बड़ा लंड होता है क्या| मैं कहा मेरी जान ये लंड का राजा है जो आज तुम्हारी चूत में जायेगा| बस फिर क्या था कुछ देर उसको लंड चुसवाने के बाद मैंने उसकी चूत को चोदना शुरू कर दिया| उसका रो रो कर बुरा हाल था पर अब उसका कुछ नहीं हो सकता था| क्यूंकि पुरे घर में हम दोनों ही थे| इसलिए उसे कोई बचाने वाला भी नहीं था| मैंने उसको रंडी समझ कर चोदा और उसकी चूत को खून से भर दिया| अगले ४ दिन तक मैंने उसकी ऐसी चुदाई करी की वो ठीक से चल भी नहीं पा रही थी| कुछ दिनों के बाद उसका पति उसे मन कर घर से ले गया| पर अब पायल को मेरे लंड का सवाद लग गया था| इसलिए वो हर हफ्ते मुझसे होटल में चोदने के लिए आती है| इस तरह दोस्तों मैंने अपने जीजू की बहन को अपनी रंडी बना लिया| …

Best Hindi sex stories © 2020