Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

तमन्ना के सलवार

desi porn kahani

मैं कोलेज में आज काफी दिन के बाद आया था, ऐसे भी मुझे लेक्चर बोरिंग लगते और में कोलेज को दूर से ही नमस्कार कर देता था | आज में राजेश से मिलने आया था, उस चूतिये से मुझे 1000 रूपये वापस लेने थे जो उसने मुझ से कर्ज लिए हुए थे |
कोलेज के गेट के पास ही मुझे एक नीली आँखों वाली हॉट लड़की दिखी…क्या मस्त बदन और चहेरा था…करीब 22 की उम्र, मस्त उभरे हुए चुंचे और गोल मटोल गांड…! में एक दो मिनट वही खड़ा उसके शरीर को देखता रहा…मुझे राजेश, कोलेज, पैसे कुछ नहीं सूझ रहा था…बस इस लड़की के शरीर के तरफ ही पूरा ध्यान था | तभी इस लड़की के साथ खड़ी लड़की पहेली बार मेरी तरफ पलटी और मैं उसे देख बहुत खुश हो गया, वोह मेरी खास दोस्त अनुष्का थी…! मैं तुरंत इन दोनों लडकियों के पास चला गया | अनुष्का मुझे देख उछल पड़ी, हे वसीम तू और कोलेज…? मैं उसके पास गया और उसे गले लगाया…वैसे अनुष्का भी भरी माल था, पर वह थोड़ी मोटी थी, उसके 38 साइज़ के चुंचे मेरी छाती से टकरा रहे थे और मेरे कड़े लंड को शायद अनुष्का ने भी महेसुस किया था…! उसने इस हॉट लड़की की तरफ इशारा करते हुए कहा, इस से मिलो यह मेरी फ्रेंड है, तमन्ना…! मैंने उस से हेंडशेक किये, मेरा मन तभी उसे गले लगाने का हुआ, पर में रुक गया…!
हॉट लड़की मेरे लपेटे मैं आ गई…!

मैंने उसी शाम को अनुष्का को फोन किया, और उस से तमन्ना के बारे में बात की…मेरे साथ फ्रेंक बात करने वाली अनुष्का बोली, मुझे तभी पता था की तू उसकी तरफ कुत्ते वाली नजर से देख रहा था…और तेरा तोता भी टाईट हुआ पड़ा था…मैं हंस पड़ा और मैंने अनुष्का से कहा, तू कुछ ना मेरा उसके साथ | अनुष्का बोली, ठीक है तू भी क्या याद रखेगा…कल कोलेज आना और थोड़े दिन आते रहना | अनुष्का सच में मेरी अच्छी दोस्त थी क्यूंकि उसने मेरा जुगाड़ इस हॉट इंडियन लड़की के साथ करा दिया और हम दोनों एक महीने के बाद कोलेज के बगीचे में बैठ कर ही अपनी वासनाए कपड़ो के साथ तृप्त करते रहे, मैंने कई तिकडम भिड़े पर यह लड़की गेस्ट हाउस में आकर चुदवाने में डरती थी और हम दोनों के घर यह मुमकिन नहीं था | मैंने इस बारे में सोचना शरु कर दिया की कहाँ ले जा के इस हॉट लड़की की चूत मारूं…..?
अनुष्का सच में मेरी अच्छी दोस्त निकली

मेरी हॉट लड़की की उलझन तब जा के खत्म हुई जब मैंने अनुष्का को बताया की मैं तमन्ना से मिल नहीं पा रहा हूँ, मोटी अनुष्का शरीर से ही मोटी थी, दिमाग से नहीं…वोह तुरंत भांप गई की मेरा मतलब क्या था, उसने आँख मारी और बोली की एक काम कर तू…हमारे रोनकपुर वाले मकान पे जाएगा उसके साथ…वहा केवल माली काका रहेते है मैं उनको बोल दूंगी…! मैंने अनुष्का के बड़े चुंचे एक बार और सिने से लगा लिए…अब मुझे इस हॉट लड़की की चूत में लंड देने के सपने और करीब दिख रहे थे..! दुसरे ही दिन मैंने अनुष्का से मकान का अड्रेस लिया और मैंने अपनी बाइक पर शाम को तमन्ना को लेकर मकान की तरफ चलती पकड़ी | गर्मी के दिन होने की वजह से अँधेरा हुआ नहीं था…मकान पर पहुँचते ही हमें माली काका मिला और उसने हमें बहार का रूम खोल दिया | अनुष्का ने इस बूढ़े को बताया थी की हम हसबंड-वाईफ है और उसके महेमान है |
हॉट लड़की लंड देख पागल सी हो गई

अनुष्का का मकान काफी बड़ा था और हम दोनों गार्डन के सामने वाले सिंगल कमरे में ही बैठे थे, बूढा अंकल पानी लेकर आया और बोला, अनुष्का बीबी हमको फोन किये थी, आप लोग खाना खाएंगे | मैंने कहा, नहीं अंकल हम किसी के फोन का इन्तेजार कर रहे है, उसको मिलकर हम निकल जाएंगे | माली अंकल बोला, आप लोग बैठो में बाजार से सब्जी लेकर आता हूँ ! वाह सही वक्त पर बूढा भी खिसक गया, मैं बहुत खुश हो गया | बूढ़े के जाते ही मैंने कमाड बंध की और तमन्ना को गले से लगा लिया | उसके चुंचे भी अकड़े हुए थे और साँसे फूली हुई थी | मैंने उसके होठो को एक हलका चुम्मा दिया और मैं उसके कपडे उतारने लगा, तमन्ना ने मेरे लंड को पकड लिया और मैं उछल पड़ा, हॉट लड़की के हाथ में लंड आते ही उसकी आँखों में एक अजब सी चमक आ गई और उसने मेरे पेंट का बकल खोल दिया ! पेंट मैंने निचे सरका दी और अंदर पहनी हुई अंडरवेयर खिंच ली, तमन्ना की आँखे मेरे 8 इंच लंबे लंड को देख कर खुली ही रह गई…!
लंड हॉट लड़की की चूत में डाल कर मेने उसे सही तरह पेल दिया…..!

मैंने तमन्ना के सलवार और कमीज़ दोनों उतार फेंके और साथ ही उसकी ब्रा-पेंटी को भी उतार डाली, इस हॉट लड़की के चुंचे काले निपलो से ढंके थे और उसकी निपले काफी बड़ी थी, मैंने तुरंत उसके निपल अपने उंगलियों के बिच ले लिए और उन्हें हल्के हल्के दबाने लगा, तमन्ना सिस्कारिया लगाने लगी और उसने मेरे कंधे पर अपने दोनों हाथ रख दिए…मुझे अलग ही नशा चढ़ गया और मैंने उसे उठाके वहा पलंग के गद्दे पर फेंका…! तमन्ना की टाँगे फेलाके में अपनी दुसरे नंबर की ऊँगली उसकी चूत के ऊपर फेरने लगा…इस हॉट लड़की की चूत गीली हो गई थी और वह अपने दोनों हाथो से चद्दर को मरोड़ रही थी….मैंने अब हल्के से ऊँगली चूत के अंदर सरका दी और उसके चूत की कलाईटोरिस को सहलाने लगा…तमन्ना अब बर्दास्त के बहार होने लगी और उसने मेरे हाथ को पकड़ के चूत के अन्दर मेरी ऊँगली जोर से दबा दी | मुझे लगा की अब सही वक्त हो चला है इस हॉट लड़की की चूत में लकड़ी जैसा कड़ा लंड देने के लिए | मैंने तमन्ना को टांगे फेलाने को कहा और लंड को अपने हाथ से पकड उसके चूत के अन्दर आहिस्ता आहिस्ता रख दिया | उसकी गर्म चूत के अंदर लंड अपना रास्ता बनाते हुए घुस गया और तमन्ना जैसे की मोटे लंड को चूत में डाल देने की वजह से तड़पने लगी | मैंने जरा भी जल्दी नहीं की, लेकिन जब मुझे लगा की तमन्ना मेरे नाग जैसे लंड से सेट हो गई है तो मैंने धीमे धीमे अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और दोनों हाथ उसके चुन्चो पर रख के उसकी सख्ती से चुदाई करनी शरु कर दी, तमन्ना के मस्तक से और मेरे सीने पे पसीना छूटने लगा था, मेरी रफ़्तार बढ़ती ही गई और में तब रुका जब मेरे लंड ने तमन्ना की चूत को वीर्यरस से भर दिया, हॉट लड़की तमन्ना मुझे बड़े प्यार से देख रही थी…हम दोनों ने माली अंकल के आने से पहेले कपडे पहन लिए और बहार खड़े उसके आने की राह देखने लगे, उसके आते ही हम दोनों अपने घरो की तरफ चल दिए…..!

Best Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme