Best Hindi sex stories

Sab se achi Indian Hindi sex kahaniya!

पायल ने जब मेरा लंड हाथ में लिया

Antarvasna, hindi sex kahani: दीदी की शादी हो जाने के बाद घर में  बिल्कुल भी अच्छा नहीं लग रहा था। दीदी की शादी को अभी ज्यादा दिन नहीं हुए थे और मैं वापस कोलकाता लौट आया था। जब मैं कोलकाता आया तो मैं पापा और मम्मी को अक्सर फोन किया करता। पापा मम्मी घर पर अकेले ही रहते हैं पापा भी कुछ समय पहले ही रिटायर हुए थे और वह घर पर ही रहते हैं। मैंने उन्हें कई बार कहा आप लोग मेरे साथ कोलकाता जाइए लेकिन वह लोग रोहतक में ही रहते हैं। एक दिन मेरी बात दीदी से हो रही थी उस दिन मैंने दीदी से कहा दीदी काफी दिनों के बाद आज आपसे मेरी बात हो रही है। वह मुझे कहने लगी हां गौतम आज तुमसे कितने दिनों के बाद मेरी बातें हो रही हैं। उस दिन मैंने दीदी से काफी देर तक फोन पर बात की और उसके बाद मैं अपने दोस्त के घर पर गया। मैं अपने दोस्त अजीत से मिलने के लिए गया था जो कि हमारे ही पड़ोस में रहता है। मैं कोलकाता जिस कॉलोनी में रहता हूं उसी कॉलोनी में अजीत भी रहता है।

अजीत अपने परिवार के साथ रहता है और मैं उस दिन उसे मिलने के लिए गया तो वह घर पर ही था और हम दोनों ने उस दिन काफी बातें की। मुझे बहुत ही अच्छा भी लगा अजीत से मेरी दोस्ती मेरे ऑफिस में हुई। एक दिन मैं और अजीत साथ में थे और हम दोनों ऑफिस से लौट रहे थे। मैंने अजीत को कहा अजीत मुझे तुमसे कुछ पूछना था। वह मुझे कहने लगा हां पूछो ना क्या पूछना है। मैंने अजीत को कहा जो लड़की तुम्हारे फ्लैट के सामने रहती है क्या तुम उस से बात करते हो। वह मुझे कहने लगा हां मेरी बात पायल से होती है। मैंने अजीत से कहा क्या तुम मेरी उससे बात करवा सकते हो। वह मुझे कहने लगा हां क्यों नहीं मैं तुम्हारी उससे बात करवा सकता हूं। अजीत ने मुझे कहा कहीं तुम पायल को पसंद तो नहीं करने लगे हो?

मैंने अजीत को कहा हां ऐसा ही कुछ समझ लो मैंने उसे कुछ दिनों पहले ही देखा था और जब मैंने पायल को देखा तो मुझे वह बहुत ही अच्छी लगी मैं चाहता हहं मैं उससे बात करूं। अजीत मुझे कहने लगा ठीक है मैं तुम्हारी पायल से बात करवा देता हूं और अजीत ने मेरी पायल से बात करवा दी। जब अजीत ने मेरी पायल से बात करवाई तो उसके बाद हम दोनों एक दूसरे से बातें करने लगे थे और हम दोनों जब एक दूसरे से बातें करते तो हमें बहुत ही अच्छा लगता और मुझे भी बहुत अच्छा लगता जब भी मैं पायल से बातें किया करता। हम दोनों एक दूसरे के साथ समय बिताने लगे थे क्योंकि पायल का नंबर मेरे पास था इसलिए मैं उससे फोन पर भी बातें किया करता हूं और हम लोग साथ में समय भी बिताया करते।

मुझे बहुत ही अच्छा लगता जब भी हम लोग साथ में समय बिताया करते है और एक दूसरे के साथ जिस तरीके से हम लोग होते हैं उससे हमें बहुत ही अच्छा लगता है। दिन-ब-दिन हम दोनों के दिल मे एक दूसरे के लिए प्यार बढ़ता ही जा रहा था। हमारा प्यार अब इस कदर बढ़ चुका था पायल ने अपने और मेरे बारे में अपनी फैमिली से भी बात की। मैंने पायल से कहा कहीं तुमने जल्दी तो नहीं कर दी। पायल कहने लगी नहीं पायल के परिवार वाले हम दोनों के रिश्ते के लिए तैयार थे और मैं भी चाहता था मैं पापा और मम्मी को पायल के बारे में बता दूं इसलिए मैंने जब उन्हें पायल के बारे में बताया तो वह लोग भी बहुत ज्यादा खुश हैं। उन्हें पायल और मेरे रिश्ते से कोई भी ऐतराज नहीं है हम दोनों ने जल्दी ही शादी करने का फैसला कर लिया था।

जब हम दोनों की शादी हो गई तो उसके बाद पायल और मैं अपनी शादीशुदा जिंदगी को अच्छे से बिताने लगे। मैं पायल के साथ बहुत ज्यादा खुश हूं जिस तरीके से हम दोनों एक दूसरे के साथ रिलेशन में है और एक दूसरे के साथ शादी हो जाने के बाद मेरी जिंदगी बहुत ही अच्छे से चल रही है। पायल के मेरी जिंदगी में आने से उसकी जिंदगी में काफी कुछ बदलाव आने लगा है मैं पायल से बहुत ही ज्यादा प्यार करता हूं और वह मुझसे बहुत प्यार करती है। हम दोनों एक दूसरे के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने की कोशिश किया करते हैं। मुझे बहुत ही अच्छा लगता है मैं और पायल एक दूसरे के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने की कोशिश किया करते हैं और हम दोनों बहुत ही ज्यादा खुश हैं जिस तरीके से मैं और पायल एक दूसरे के साथ होते तो हमें बहुत ही अच्छा लगता।

एक दिन पायल और मैं साथ मे थे उस दिन हम दोनों एक दूसरे से बातें कर रहे थे पायल ने मुझे कहा चलो आज हम लोग पापा मम्मी से मिल आते है। उस दिन मेरी भी ऑफिस की छुट्टी थी तो मैंने भी सोचा पायल ठीक कह रही है और हम लोग पायल के पापा मम्मी को मिलने के लिए चले गए। हम लोग वहां पर काफी देर तक रहे और उसके बाद वहां से हम लोग वापस लौट आए थे हमें घर लौटने में काफी देर हो चुकी थी इसलिए मैंने पायल से कहा पायल मुझे कल ऑफिस जाना है। वह मुझे कहने लगी आप आराम कर लीजिए मुझे बहुत गहरी नींद आ रही थी मैं सो चुका था। अगले दिन मैं अपने ऑफिस के लिए चला गया मैं अपने ऑफिस जल्दी ही निकल गया था। उस दिन जब मैं घर लौटा तो उस वक्त 7:00 बज रहे थे मैं अपने ऑफिस से घर जल्दी आ गया था। पायल ने मुझे कहा कि आज ऑफिस से घर जल्दी आ गए हैं मैंने पायल को कहा कि हां आज मैं ऑफिस से जल्दी निकल चुका था मैं ऑफिस से जल्दी निकल चुका था।

मैं जब पायल के साथ बैठा हुआ था तो हम दोनों एक दूसरे से बातें कर रहे थे लेकिन उस दिन मैंने पायल को जब अपनी और खींचा तो वह मेरी बाहों में आ गई। जब वह मेरी बाहों में आई तो मैं उसके स्तनों को दबाने लगा। वह मुझे कहने लगी आप यह क्या कर रहे हैं। मैंने पायल से कहा काफी दिन हो गए हैं हम लोगों के बीच सेक्स संबंध नहीं बने हैं मैं तुम्हारे साथ सेक्स करना चाहता हूं। पायल भी काफी खुश थी और मुझे भी बहुत ही अच्छा लगा मै और पायल एक दूसरे के साथ सेक्स करना चाहते थे। मैंने पायल को सोफे पर लेटा दिया था और उसके होंठों को चूमने लगा। मैं जब उसके होंठों को चूम रहा था तो उसकी गर्मी बढ़ रही थी। मैंने उसके ब्लाउज को खोलते हुए पायल की ब्रा को उतार दिया था। जब मैंने उसकी ब्रा को उतारा तो मैं उसके गोरे स्तनों को दबाने लगा था और मुझे मजा आने लगा था।

मैं उसके स्तनों को दबाकर अपनी गर्मी को बढ़ाए जा रहा था मेरे अंदर की गर्मी बढ़ती ही जा रही थी। मैं और पायल एक दूसरे की गर्मी को बढ़ा रहे थे। मैंने जैसे ही पायल की साड़ी को ऊपर करते हुए उसकी पैंटी को नीचे किया तो उसकी चूत पर मैं अपनी उंगली से लगा रहा था और उसकी योनि को सहलाने में मुझे मजा आ रहा था। वह गर्म होती जा रही थी और उसकी गर्मी बढ़ रही थी। मैंने पायल की चूत पर अपनी जीभ को लगा दिया और उसकी चूत पर मैंने जब चाटा तो मुझे मजा आने लगा। पायल को भी बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा था पायल पूरी तरीके से गरम होती जा रही थी और मैं भी गरम हो चुका था। अब ना तो मैं अपने आपको रोक पा रहा था और ना ही पायल अपने आपको रोक पा रही थी। मैंने जैसे ही पायल की चूत की चूत के अंदर अपने लंड को डाला तो वह चिल्लाने लगी। उसकी चूत के अंदर तक मेरा लंड आसानी से चला गया था।

जब उसकी योनि में मेरा लंड गया तो मुझे मजा आने लगा और वह जोर से सिसकारियां लेने लगी थी। मेरा लंड आसानी से उसकी चूत के अंदर बाहर हो रहा था और मुझे बहुत ज्यादा मजा आ रहा था जब मैं उसे चोद रहा था। मैं उसे तेजी से धक्के देने लगा था और मेरे धक्के और भी ज्यादा तेज होते जा रहे थे। वह मुझे कहने लगी मुझे ऐसे ही तुम चोदते जाओ। मैंने उसे बहुत तेजी से चोद रहा था। जब मेरा वीर्य बाहर की तरफ निकलने को तो मैंने पायल से कहा मैं तुम्हारी चूत में वीर्य को गिरा रहा हूं। उसने मुझे अपने पैरों के बीच में कसकर जकड़ लिया था जिस से पायल की चूत मुझे टाइट महसूस हो रही थी और उसकी चूत मे मेरा वीर्य गिर गया था। मेरा वीर्य उसकी चूत में गिरते ही मुझे मजा आ गया था। पायल को भी बहुत ज्यादा अच्छा लगा जब मैंने पायल की चूत को साफ करते हुए पायल की चूतडो को अपनी तरफ किया।

पायल सोफे के सहारे खड़ी थी मैंने उसकी चूत पर अपने लंड को लगाया और मेरा लंड तन कर खड़ा था। जब मैंने पायल की चूत के अंदर अपने लंड को घुसाया तो वह खुश हो गई। मैंने पायल की चूत में जैसे ही अपने लंड को डाला तो वह बहुत जोर से चिल्लाने लगी और मुझे कहने लगी मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा है। हम दोनों एक दूसरे की गर्मी को बढ़ा रहे थे मैं उसे तेजी से धक्के दिए जा रहा था। उसकी बड़ी चूतडे जब मेरे लंड से टकराती तो मुझे मज़ा आ रहा था और पायल की चूत से अलग ही प्रकार की आवाज निकल रही थी जो मेरे अंदर की उत्तेजना को और भी ज्यादा बढ़ा रही थी। मेरी गर्मी इतनी अधिक हो चुकी थी मैं बिल्कुल भी रह नहीं पा रहा था। मैंने पायल को कहा आज मुझे मजा आ रहा है। मैंने पायल की चूतडो को अपने हाथों से पकड़ लिया था और उसकी चूतड़ों का रंग पूरी तरीके से लाल हो चुका था लेकिन मुझे उसे चोदना में इतना मजा आया मैंने जैसे ही उसकी चूत मे वीर्र को गिराया तो वह खुश हो गई थी। मैंने जब अपने लंड को उसकी चूत से बाहर निकाला तो मुझे बड़ा ही मजा आया और हम दोनों एक दूसरे के साथ बहुत ज्यादा खुश थे जिस तरीके से हम लोगों ने एक दूसरे की गर्मी को शांत कर दिया था। उस दिन हमें बहुत ही मजा आया था।

Best Hindi sex stories © 2020